नगर के 42 सफाई कर्मचारी अनिश्चित कालीन हड़ताल व, धरना-प्रदर्शन जारी

शिकारपुर : नगर के समस्त सफाई कर्मचारी अनिश्चित कालीन हड़ताल पर चले गये हैं दिवाली के त्यौहार को लेकर नगर में साफ-सफाई कि हालात तर-बतर हो रही है लगभग पिछले 10 माह से लगातार यूनियन कर्मचारियों की वैधानिक मांगों को लगातार नगर पालिका परिषद प्रशासन शिकारपुर के समक्ष रखती आ रही है इस अवधि में स्वयं अध्यक्षा और अधिशासी अधिकारी की उपस्थिति में नगर पालिका परिषद प्रशासन और श्रमिक प्रतिनिधियों के मध्य हमेशा सौहार्दपूर्ण वातावरण में समझौता वार्ता हुई वार्ता के दौरान मजदूर पक्ष को यह आश्वासन दिया गया है कि मजदूरों की समस्याओं का समाधान कर दिया जायेगा मजदूरों में आशा जागी कि शायद अब समस्याओं का अन्त हो जायेगा परन्तु अफसोस की बात है कि नगर पालिका प्रशासन द्वारा किये गये समझौतो की स्याही सूखने से पहले ही नगर पालिका प्रशासन समझौतो का पालन नहीं किया गया जिस वक्त सफाई कर्मचारी धरना प्रदर्शन कर रहे थे उसी समय पहुंची शिकारपुर पुलिस लेकिन आखिर मजदूर करें भी तो क्या करें क्योंकि उनके बच्चों को ढंग से निवाला तक नहीं मिल पा रहा था तब वह अपनी ड्यूटी पर तैनात हों और उन्हें ढंग से उनकी पगार मिले यह पगार तब मिलेगी जब शिकारपुर नगर पालिका उन सभी मजदूरों की समस्या का समाधान करेगी और उनको पुणे ड्यूटी पर तैनात रखेगी यह तो देखने वाली बात होगी कि आखिर यह सब कुछ फिर से कितने समय में उपस्थित होगा दिनांक 03/10/2019  को स्वयं को यूनियन प्रतिनिधियों से वार्ता करके आश्वासन दिया कि समस्याओं का समाधान कर दिया जाएगा आपके द्वारा दिए गए आश्वासन से मजदूरों को इससे राहत का अहसास हुआ परन्तु अफसोस यह समझौता भी छलावा सिद्ध हुआ नगर की सफाई व्यवस्था संभाले रहे 42 ठेका सफाई कर्मचारी दिनांक 01/07/2019 से आज तक वेतन से वंचित हैं परिणाम तो है उनके बाल बच्चे परिवार जहाज भुखमरी के कगार पर है परिणाम उन सभी कर्मचारियों में असंतोष की भावना जन्म ले रही है यूनियन हमेशा औद्योगिक शान्ति और सौहार्द बनाए रखने की पक्षधर रही है दुखद बात यह है कि यूनियन की शांतिप्रियता की नीति को नगर पालिका प्रशासन ने यूनियन की कमजोरी समझा हुआ है यूनियन द्वारा नगर पालिका प्रशासन से की गई निम्न मांगे निम्न बताएं कई वर्षों से आज तक लगातार काम करते आ रहे थे, सफाई कर्मचारियों तथा 14 ट्रैक्टर टेंपो चालकों का बकाया भुगतान किया जाए पालिका प्रशासन तथा यूनियन के माध्यम दिनांक 12/07/2019 से आज तक किए गए समझौतों का पालन किया जाए यूनियन के अध्यक्ष बबलू कुमार सचिव संजय कुमार को सेवा की निरंतरता से बिना शर्त ड्यूटी पर लिया जाए फर्जी अभिलेखों के आधार पर श्रमिकों का छोड़ा गया ठेका निरस्त करते हुए ठेकेदार के विरुद्ध विभागीय कार्यवाही की जाए इस मौके पर सुरेश चंद,बबलू कुमार,संजय,रमेश चंद,पंकज कुमार,राजेश देवी,शांति देवी,कमला देवी,शकुंतला देवी, आदि मौजूद रहे खबर लिखे जाने तक धरना प्रदर्शन जारी।