पुलिश उत्पीड़न के खिलाफ नोएडा के पथ विक्रेता फिर उतरे सड़क पर पुलिस अधीक्षक को दिया ज्ञापन

नोएडा, पिछले कई दिनों से नोएडा पुलिस द्वारा पथ विक्रेताओं पर किये जा रहे अत्याचार और रोजी-रोटी पर हमले से परेशान रेहड़ी-पटरी फुटपाथ के दुकानदारों ने पथ विक्रेता कर्मकार यूनियन गौतमबुद्ध नगर के महामंत्री एवं सीटू जिलाध्यक्ष गंगेश्वर दत्त शर्मा के नेतृत्व में नोएडा पुलिस अधीक्षक कार्यालय सेक्टर-6 नोएडा का घेराव कर पुलिस अधीक्षक को विभिन्न थानों के पुलिस कर्मियों द्वारा संवैधानिक व्यवस्था और कानून को ताक पर रखकर किये जा रहे उत्पीड़न से अवगत कराते हुए ज्ञापन दिया और मांग किया कि जब तक नोएडा प्राधिकरण द्वारा गठित नगर पथ विक्रय समिति वैन्डिंग जौन बनाने की प्रक्रिया को पूरी नहीं कर लेती है तब तक पथ विक्रेताओं से छेड़छाड़ ना की जाये और उन्हें वर्तमान कार्य स्थलों पर ही कार्य करने दिया जाये। ज्ञापन में यह भी चेतावनी दी गई कि यदि आगे भी पुलिस ने उत्पीड़न की कार्यवाही जारी रखी और उनका रोजगार बन्द करवाया गया तो वे अपने-अपने क्षेत्र के थानों पर ही दीपावली पर धरना प्रदर्शन कर काली दीवाली मनायेंगे। अधिकारियों ने पथ विक्रेताओं की समस्याओं को ध्यान पूर्वक सुना और पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार, सी0ओ0 प्रथम स्वेताप पान्डे, थाना सैक्टर-20 नोएडा एस0एच0ओ0 राजवीर सिंह आदि वरिष्ठ अधिकारियों ने पथ विक्रेताओं को आश्वासन दिया कि पुलिस द्वारा किसी को भी परेशान नहीं किया जायेगा और वे अपना रोजगार करें साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि मुख्य मार्ग पर ऐसी जगह दुकान ना लगाये जिससे यातायात प्रभावित होता हो। पुलिस अधीक्षक के कार्यालय पर हुए आन्दोलन में सीटू नेता भरत डेन्जर, मदन प्रसाद, राम सागर, अनयन, राज करन, लता सिंह, सामाजिक कार्यकर्ता सतीश चैहान, उर्मिला चैधरी, चिन्टूू लोकेश चैहान, रेहड़ी पटरी के नेता राजू मास्टर, रवीन्द्र कुमार शाह, रामबोली, रीता कर्दम, सीमा, पूनम देवी, ब्रह्मपाल सिंह, दिलीप पासवान, सरोज गुप्ता, नवलेश कुमार, विनोद कुमार, बटेश्वर मिश्रा, भीखू प्रसाद, हरिचरण स्वामी आदि आदि के साथ-2 कई सौ पथ विक्रेताओं ने हिस्सा लिया।